भारतीय रेल ने सीट आरक्षण से जुड़े नियमों में किया बड़ा बदलाव, पढिये, नये नियम

महिलाओं में भी जिनकी उम्र 45 साल से ज्यादा है, या गर्भवती हैं उन्हें प्राथमिकता दी जाएगी और लोअर सीट एलॉट किया जाएगा।

New Delhi, Dec 06 : भारतीय रेल अपने यात्रियों को सुविधा देने को लेकर लगातार फैसले ले रही है, अब एक बार फिर रेलवे ने यात्रियों को सुविधा देने के लिये कई फैसले लिये हैं, अब महिला यात्रियों के लिये ट्रेन में सीटों का कोटा बढा दिया गया है, रेलवे बोर्ड द्वारा बनाये गये नये नियमों के अनुसार महिला कोटे के तहत आरक्षित सीटों की संख्या बढाकर अब 4 से 6 कर दिया है, इस संबंध में रेलवे ने सभी जोनल को निर्देश जारी किया है।

नीचे की सीटें आरक्षित
आपको बता दें कि सीनियर सिटिजन के लिये अब चार नीचे की सीटें आरक्षित होगी, पहले आरक्षित रेलगाड़ियों में सीनियर सिटिजन और महिलाओं के लिये सिर्फ 3 नीचे की सीटें आरक्षित होती थी, अब नये निर्देशों के अनुसार मेल और एक्सप्रेस ट्रेनों में महिलाओं के 6 स्लीपर क्लास में सीट आरक्षित होंगे, गरीब रथ जैसे रेलगाड़ियों में 3 एसी श्रेणी में 6 सीटें आरक्षित होंगी।

एसी में भी कोटा बढा
राजधानी, दुरंतो जैसे ट्रेनों में महिला कोटे के तहत 6 सीटों का कोटा बढा दिया गया है, सीनियर सिटीजन और 45 साल से ज्यादा उम्र की महिलाएं, गर्भवती महिला या फिर अकेली यात्रा कर रही महिलाओं को भी इसका लाभ मिलेगा। इससे पहले राजधानी और दुरंतो एक्सप्रेस में प्रत्येक कोच में 4 सीटें कंबाइड कैटेगरी में रिजर्व होती थी, मालूम हो कि कंबाइड कैटेगरी में वरिष्ठ नागरिक और गर्भवती महिला भी शामिल होती है।

स्लीपर और एसी कोच
भारतीय रेलवे द्वारा जारी किये गये नये निर्देश के अनुसार सभी ट्रेनें जिनमें स्लीपर क्लास और एसी थ्री टायर है, उनमें हर स्लीपर कोच में 06 लोअर सीटें और थर्ड एसी में 03 नीचे की सीटें वरिष्ठ नागरिकों और महिलाओं के लिये आरक्षित होगा, इसके बाद दूसरे लोगों को आरक्षण मिलेगा।

इन्हें मिलेगी प्राथमिकता
महिलाओं में भी जिनकी उम्र 45 साल से ज्यादा है, या गर्भवती हैं उन्हें प्राथमिकता दी जाएगी और लोअर सीट एलॉट किया जाएगा। राजधानी एक्सप्रेस और दुरंतो जैसी पूरी तरह से एसी रेलगाड़ियों में भी महिलाओं और सीनियर सिटिजनों के लिये 4 नीचे की सीटें आरक्षित होगी, पहले इन गाड़ियों में वरिष्ठ नागरिकों और महिलाओं के लिये 3 सीटें आरक्षित थी।