नसीरुद्दीन शाह को RJ रौनक ने दिखाया आईना, ‘असहिष्‍णुता’ पर बनाया ऐसा वीडियो देखकर आप भी कहेंगे ‘वाह’

नसीरुद्दीन शाह के डर वाले बयान को लेकर सियासत से लेकर फिल्‍म इंडस्‍ट्री में भी बहस छिड़ी हुई है । कुछ शाह के साथ हैं तो कुछ इस बयान के खिलाफ । ऐसे में एक कोशिश आरजे रौनक ने की है, एक वीडियो के जरिए कुछ बताने की कोशिश की है । Video Below – 

New Delhi, Jan 11 : हिंदी फिल्‍म इंडस्‍ट्री के नामचीन सितारे, गंभीर अभिनय की मिसाल नसीरुद्दीन शाह इन दिनों नई बहस में उलझ गए हैं । पहले उनका डर वाला बयान और फिर उनका नफरत वाला बयान, भले उनके कहने के मायने कुछ और हों लेकिन उससे जो निकलकर सामने आ रहा है वो देश की एकता, अखंडता और अनेकता में एकता के विश्‍वास को गहरी चोट पहुंचा रहा है । आर जे रौनक का एक वीडियो इन दिनों खासा वायरल हो रहा है, एक खुले खत के जरिए रौनक ने नसीर साहब के डर के सच को बयां करने की कोशिश की है ।

वीडियो के जरिए नसीर के नाम खुला खत
नसीरुद्दीन शाह के नाम आर जे रौनक ने एक खुले खत के जरिए संदेश देने की कोशिश की है । इस वीडियो को लोग काफी पसंद कर रहे हैं । सोशल मीडिया में ये वीडियो वायरल हो गया है । आर जे रौनक के इस वीडियो में वो बताने की कोशिश कर रहे हैं बरसों से देश में सभी धर्मों के लोग समभाव से रह रहे हैं, दंगे का दर्द भी सहा है और साथ में होली दीवाली ईद रमजान भी सेलिब्रेट किया है, लेकिन आम जन को डर क्‍यों नहीं लगता ।

वीडियो में आम जनता से सवाल
इस वीडियो में आरजे रौनक की टीम ने आम जनता से भी बात करने की कोशिश की । असहिष्‍णुता, इनटॉलरेंस, देश में डर जैसी बातें क्‍या वाकई लोगों के जहन में हैं, जब ये सवाल लोगों से पूछे गए तो उनके जवाब सुनकर आपको भी यकीन हो जाएगा कि ये बस बातें हैं और बातों का क्‍या । लोगों को ना तो देश में डर लगता है और ना ही देश छोड़कर जाने का किसी का कोई इरादा ही नजर आता है ।

परेश रावल ने भी कही ये बात
नसीरुद्दीन शाह के बयान पर हाल ही में परेश रावल ने भी बयान दिया था । उन्‍होने कहा कि नसीर के बयान का लोगों ने फायदा उठाया, वो इन बातों से इत्‍तेफाक नहीं रखते । उन्‍होने कहा कि – “नसीर ने ये बात कही, यह इस बात का सबूत है कि इस देश में अभिव्यक्ति की आज़ादी है। उनके इतना कुछ कहने के बाद भी किसी ने पत्थर उठा कर नहीं मारा, न ही किसी ने आपके बाल पकड़े।” वहीं जब आमिर से इस बारे में बात की गई तो वो कुछ नहीं बोले, कुछ साल पहले आमिर ने भी असहिष्‍णुता पर नई बहस जारी की थी ।