मसूद अजहर के मामले में चीन का बड़ा बयान, पाकिस्तान को लग सकता है जोरदार झटका

चीनी राजदूत ने कहा बीते साल वुहान सम्मेलन के बाद दोनों ओर से सहयोग सही ट्रैक और फास्ट ट्रैक पर है, हम इस सहयोग से संतुष्ट हैं।

New Delhi, Mar 17 : संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में पाकिस्तानी आतंकी मसूद अजहर को चौथी बार वीटो का इस्तेमाल कर बचाने वाले चीन ने रविवार को बड़ा बयान दिया है, भारत में चीन के राजदूत लुओ जाओहुई ने इस मामले में भारत की चिंताओं पर भी जोर दिया है, चीनी राजदूत ने कहा कि मसूद के बारे में हम सब समझते हैं, हम इस मामले में पूरी तरह से विश्वास करते हैं, कि जल्द ही इस मामले को सुलझा लिया जाएगा।

जल्द निकलेगा हल
राजदूत ने दिल्ली में चीनी दूतावास में होली मिलन समारोह के दौरान ये बातें कही, उन्होने स्पष्ट शब्दों में कहा कि ये मामला जल्द ही सुलझ जाएगा, ये सिर्फ तकनीकी होल्ड है, जल्द ही संयुक्त राष्ट्र के आतंकियों की सूची में मसूद अजहर का नाम होगा, मुझ पर विश्वास कीजिए।

सहयोग से संतुष्ट
चीनी राजदूत ने आगे बोलते हुए कहा बीते साल वुहान सम्मेलन के बाद दोनों ओर से सहयोग सही ट्रैक और फास्ट ट्रैक पर है, हम इस सहयोग से संतुष्ट हैं, साथ ही भविष्य को लेकर आशावादी हैं। आपको बता दें बीते सप्ताह बुधवार को चीन ने चौथी बार भारत की कोशिशों को नाकाम करते हुए जैश सरगना मसूद अजहर को बचाया है।

भारत ने कहा था निराशाजनक
चीन के इस कदम को भारत के निराशाजनक कहा था, भारत के पास मसूद अजहर के खिलाफ पुख्ता सबूत हैं, साथ ही उम्मीद की जा रही थी कि मसूद अजहर को ग्लोबल टेररिस्ट घोषित किया जाएगा, लेकिन चीन ने पाकिस्तान से दोस्ती दिखाते हुए मसूद अजहर का साथ दिया, जिसकी वजह से तब वो बच गया।

पाक की धरती पर आतंकवाद
सूत्रों का दावा है कि चीन को भी ये बात समझ आ रही है, कि पाक की धरती पर जो आतंकवाद को पाला-पोसा जा रहा है, वो उसके लिये भी खतरनाक है, लेकिन फिलहाल चीन को पाक के साथ कई मुद्दे सुलझाने हैं, इस वजह से वो वेट एंड वॉच की स्थिति में है।