प्रियंका गांधी भी नहीं रोक पा रही कांग्रेस में मची भगदड़, 6 राज्यों में 17 दिग्गजों ने थामा बीजेपी का दामन

चुनाव ऐलान के साथ ही कांग्रेस के खेमे में खलबली मच गई है, राहुल गांधी से हाथ छुड़ाकर एक के बाद एक नेता दूसरी पार्टियों में जा रहे हैं।

New Delhi, Mar 17 : लोकसभा चुनाव के लिये रणभेरी बज चुकी है, योद्धाओं ने कमर कस ली है, विपक्ष की पार्टियां पूरी कोशिश में है, कि इस बार मोदी सरकार को दोबारा वापसी से रोका जाए, इसके लिये कांग्रेस की ओर से राहुल गांधी के साथ उनकी छोटी बहन प्रियंका ने भी मोर्चा संभाल रखा है। लेकिन चुनाव ऐलान के साथ ही कांग्रेस के खेमे में खलबली मच गई है, राहुल गांधी से हाथ छुड़ाकर एक के बाद एक नेता दूसरी पार्टियों में जा रहे हैं।

6 राज्यों में 17 बड़े नेताओं ने छोड़ी पार्टी
उत्तर भारत से दक्षिण भारत तक कांग्रेस के 17 बड़े नेताओं ने हाल के दिनों में बीजेपी ज्वाइन किया है, इसके अलावा कई छोटे नेताओं ने भी कांग्रेस छोड़ भगवा बिग्रेड में जाने का फैसला लिया, पुराने कांग्रेस भी बीजेपी में जा रहे हैं, एक ओर जहां पार्टी हाईकमान चुनाव जीतने के लिये महागठबंधन और जोड़-तोड़ में लगे हैं, तो वहीं दूसरी ओर उनके अपने ही कमांडर पाला बदल रहे हैं।

टॉम वडक्कडन बीजेपी में शामिल
पिछले कुछ दिनों में कांग्रेस छोड़ बीजेपी में शामिल होने वाले नामों में सबसे चर्चित नाम है टॉम वडक्कन का, कांग्रेस महासचिव और प्रवक्ता रहे टॉम ने कांग्रेस छोड़ बीजेपी ज्वाइन कर लिया, उन्होने हवाला दिया, कि सेना के अपमान से वो आहत थे, इसी वजह से उन्होने कांग्रेस छोड़ दिया, वडक्कन को लेकर अगले ही दिन कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि उनके बीजेपी में जाने से कोई फर्क नहीं पड़ेगा।

प्रियंका को मैदान में उतारा
कांग्रेस ने अपने नेताओं और कार्यकर्ताओं में जोश भरने के लिये ही प्रियंका गांधी को मैदान में उतारा है, पार्टी माहौल बनाने की भरपूर कोशिश कर रही है, लेकिन वैसा माहौल बन नहीं पा रहा है, जैसी कोशिश की जा रही है, प्रियंका सक्रिय राजनीति में आने के बाद से लगातार गांव-गांव घूम रही है, उन्होने अपनी पहली ही रैली में कहा था कि सोच-समझकर मतदान करें।

कभी सोनिया गांधी के करीबी थे वडक्कन
एक ओर राहुल -प्रियंका मोदी को हराने के लिये जनता का साथ मांग रहे हैं, लेकिन दूसरी ओर उनकी पार्टी में ही भगदड़ मची हुई है, सोनिया गांधी के करीबियों में गिने जाने वाले टॉम अब बीजेपी का हिस्सा बन चुके हैं, कांग्रेस पार्टी छोड़ते हुए उन्होने पार्टी नेतृत्व पर सवाल खड़े किये थे, उन्होने कहा था कि बीजेपी में शामिल होना विचारधारा नहीं बल्कि देशहित का फैसला है।