विश्वकप टीम में जगह मिलने के बाद दिनेश कार्तिक का बड़ा बयान, धोनी और चयनकर्ता के बारे में कही बड़ी बात

विश्वकप टीम के लिये वैसे तो विकेटकीपर के तौर पर धोनी पहली पसंद हैं, अब टीम को एक बैकअप विकेटकीपर की जरुरत थी, जिसके लिये युवा पंत और अनुभवी दिनेश कार्तिक के बीच मुकाबला था।

New Delhi, Apr 17 : आईपीएल के बुखार के बीच आगामी तीस मई से क्रिकेट का महाकुंभ आईसीसी विश्वकप 2019 शुरु हो रहा है, इसके लिये टीम इंडिया का चयन भी हो चुका है, इस चयन में सबसे ज्यादा चर्चा अंबाती रायडू और ऋषभ पंत को नहीं चुने जाने को लेकर है, इसके साथ ही दिनेश कार्तिक के चुने जाने पर ही खूब चर्चा हो रही है, कार्तिक टीम में चुने जाने से खुश तो हैं, लेकिन उन्होने अपनी भूमिका को लेकर बड़ा बयान दिया है।

केवल बैकअप विकेटकीपर ?
विश्वकप टीम के लिये वैसे तो विकेटकीपर के तौर पर धोनी पहली पसंद हैं, अब टीम को एक बैकअप विकेटकीपर की जरुरत थी, जिसके लिये युवा पंत और अनुभवी कार्तिक के बीच मुकाबला था, दोनों अच्छे विकेटकीपर हैं, लेकिन धोनी से बेहतर नहीं, दोनों बल्लेबाजी भी बढिया करते हैं, लेकिन धोनी की मौजदूगी टीम का मनोबल बदल देती है, इसलिये धोनी के आगे दोनों को तरजीह मिलना मुश्किल है, अब धोनी के रहते कार्तिक की टीम में क्या भूमिका होगी, इस पर दिनेश ने बड़ा बयान दिया है।

चयन पर बेहद खुशी हुई
जब टीम इंडिया का ऐलान किया गया तो दिनेश कार्तिक कोलकाता में थे, खुद उन्होने बताया कि टीम में चुने जाने से वो बेहद खुश हैं, 12 साल बाद विश्वकप टीम में जगह बनाने वाले कार्तिक ने बताया कि कैसे उनकी विश्वकप टीम में वापसी हुई, 2017 में टीम में वापस आये। ऑस्ट्रेलिया दौरे पर उनकी जगह ऋषभ पंत को चुना गया, तब मुख्य चयनकर्ता एमएसके प्रसाद ने उनसे बाता की थी।

ये योजना थी चयन समिति की
दिनेश कार्तिक ने बताया कि एमएसके प्रसाद ने उनसे बात करते हुए कहा था कि वो दोनों (पंत और कार्तिक) को समान अवसर देना चाहते हैं, इसलिये ऑस्ट्रेलिया, न्यूजीलैंड और फिर ऑस्ट्रेलिया का भारत दौरा के लिये पंत को टीम में शामिल किया गया था, दिनेश कार्तिक ने कहा कि मुझे उनकी साफगोई बेहद पसंद आई।

पहले ही स्पष्ट है स्थिति
मुख्य चयनकर्ता ने पहले ही स्थिति स्पष्ट कर दी है, कि दिनेश कार्तिक बैकअप विकेटकीपर हैं, कार्तिक ने अपनी भूमिका को स्वीकार करते हुए कहा कि जहां तक माही भाई का सवाल है, तो उनके रहते मैं सिर्फ फर्स्ट एड किट रहूंगा, जो टीम के साथ सफर करेगा, यदि वो चोटिल होते हैं, तो मैं एक दिन के लिये खेल सकूंगा, फिर थोड़ा गंभीर होकर कार्तिक ने कहा मुझे पता है कि मैं नंबर चार पर बढिया बल्लेबाजी कर सकता हूं, साथ ही फिनिशर की भी भूमिका निभा सकता हूं, मैं पहले ऐसा कर चुका हैं, अब कप्तान विराट कोहली मुझे क्या भूमिका देते हैं, ये तो आने वाले समय में पता चलेगा।