UP: इस सीट पर समाजवादियों के गढ़ में लहराएगा भगवा, ये आंकड़े भी कहते है ‘मोदी सब पर भारी’

उत्‍तर प्रदेश में समाजवादियों का गढ़ रहे सलेमपुर लोकसभा सीट में इस बार चुनाव में किसी भी जातीय समीकरण पर अकेले पीएम मोदी भारी पड़ते दिखाई द रहे हैं । क्षेत्र में पिछड़े मतदाताओं की भूमिका निर्णायक साबित होगी ।

New Delhi, May 17 : उत्‍तर प्रदेश का सलेमपुर इलाका । 2014 से पहले इस सीट पर कभी भाजपा के लिए मतदान ही नहीं हुआ । 2014 में चौंकाने वाले नतीजे आए और यूपी की 70 से ज्‍यादा विधानसभाओं जहां भाजपा ने भगवा लहराया उनमें सलेमपुर भी एक थी । इस सीट से स्‍थानीय लोगों ने भारतीय जनता पार्टी के रवीन्‍द्र कुशवाहा पर भरोसा जताया । लेकिन विधानसभा चुनाव में लोकसभा के अंतर्गत आने वाली 5 सीटों में से 2 बीजेपी ने गंवा दी । माना जा रहा था कि इसका असर इन चुनावों में दिखेगा, लेकिन आंकड़े कुछ और ही कहते हैं ।

मोदी सब समीकरणों पर भारी
‘जनसत्‍ता’ की एक रिपोर्ट के अनुसार उत्तर प्रदेश के सलेमपुर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सभी जातीय  समीकरण पर भारी पड़ते नजर आ रहे हैं । सलेमपुर उत्‍तर प्रदेश की एक ऐसी लोकसभा सीट है जहां गरीब और अधिकतर ग्रामीण आबादी वाले क्षेत्र हैं और यहां अधिकतर पिछड़े और अति पिछड़े वर्ग की आबादी रहती है। रिपोर्ट के मुताबिक इस क्षेत्र में यादव, कुशवाहा, राजभर, दलित और मुस्लिम समुदाय शामिल है । अगड़ा वर्ग इस क्षेत्र में 5 लाख से भी कम है, जबकि अन्‍य की संख्‍या 16 लाख से भी ज्‍यादा ।

रवीन्‍द्र कुशवाहा दोबारा मैदान में
बीजेपी ने इस बार भी इस लोकसभा सीट से मौजूदा सांसद रविंद्र कुशवाहा को उम्मीदवार बनाया है, लेकिन उनका मुकाबला बसपा-सपा के प्रत्‍याशी आर एस कुशवाहा से है । हालांकि स्‍थानीय लोगों का मानना है कि उनके क्षेत्र में मोदी को कोई नहीं हरा सकता क्‍योंकि वो जन-जन के दिल में बसते हैं । इस रिपोर्ट में क्षेत्र में रहने वाले सत्यप्रकाश कुशवाहा और ब्रजेश कुशवाहा के हवाले से कहा गया कि बीएसपी की तरफ से कुशवाहा उम्मीदवार उतारे जाने के बावजूद 60 फीसदी कुशवाहा वोट मोदी के खाते में ही जाएंगे। ब्रजेश और सत्‍य प्रकाश दोनों ही सलेमपुर में फर्नीचर की दुकान चलाते हैं ।

2014 के आंकड़े
2014 लोकसभा चुनाव की बात करें तो यहां से रवीन्‍द्र कुशवाहा ने जीत हासिल की थी । SP-बसपा उम्‍मीदवारों से 70 हजार अधिक वोट पाकर बीजेपी में यहां इतिहास रचा था । जबकि सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी प्रमुख ओम प्रकाश राजभर ने भी पिछले चुनाव में यहां 66000 मत हासिल करने में कामयाब हुए थे । बसपा ने यहां से रवि शंकर सिंह को टिकट दिया था और सपा की ओर से हरिबंश सहाय कुशवाहा मैदान में थे । सपा, बसपा उममीदवार यहां दूसरे और तीसरे नंबर पर रहे थे ।