गाजियाबाद में खुदकुशी करने वाली महिला बंगलुरु में मिली, रची गई थी साजिश

कोमल एक बीमा कंपनी में बतौर ट्रेनिंग मैनेजर काम करती हैं, वो भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय सचिव की बेटी है।

New Delhi, Jul 11 : दिल्ली से सटे गाजियाबाद से लापता हुई भारतीय किसान यूनियन के नेता की बेटी को पुलिस ने बंगलुरु रेलवे स्टेशन से खोज निकाला है। पुलिस को देखते ही महिला ने ट्रेन में कंबल से अपना चेहरा ढक लिया था, हालांकि पुलिस ने कोमल को पहचान लिया। आपको बता दें कि पुलिस को कोमल की कार हिंडन नदी रोड पर खड़ी मिली थी और कार की सीट पर एक सुसाइड नोट था, जिसके बाद आशंका जताई जा रही थी कि कोमल ने हिंडन में कूदकर अपनी जान दे दी ।

तीन दिन ढूंढते रहे गोताखोर
कोमल एक बीमा कंपनी में बतौर ट्रेनिंग मैनेजर काम करती हैं, वो भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय सचिव की बेटी है, बीते 6 जुलाई को कोमल की कार हिंडन ब्रिज के पास लावारिस हालत में खड़ी मिली थी, कार की सीट पर सुसाइड नोट मिला था, जिसके बाद माना गया, कि कोमल हिंडन में कूद गई, पुलिस ने बचाव अभियान चलाया, गोताखोर तीन दिन तक नदी में कोमल को तलाशते रहे, लेकिन वो नहीं मिली, जिसके बाद बचाव कार्य रोक दिया गया।

सुसाइड नोट
पुलिस को जो सुसाइड नोट मिला है, उसमें कोमल ने अपने पति और ससुरालियों पर प्रताड़ित करने का आरोप लगाया है, कोमल के पिता ने भी पुलिस को बताया था कि ससुराल के लोग उनकी बेटी को मानसिक और शारीरिक प्रताड़ना देते हैं, जिसके बाद पुलिस ने कोमल को ढूंढना शुरु किया ।

मानसिक स्थिति ठीक नहीं
कोमल जिन लोगों के संपर्क में थी, उनसे पूछताछ की गई, तो ये बात सामने आई, कि उसने हिंडन बैराज पर अपनी कार छोड़ दी, फिर ऑटो से आनंद विहार पहुंची, जहां से उसने जयपुर के लिये बस लिया, फिर जयपुर पहुंचने के बाद मुंबई के लिये फ्लाइट ली, पुलिस को पता चला था कि कोमल बंगलुरु में है, जिसके बाद अब पुलिस उसे वापस गाजियाबाद लाने की प्रक्रिया पूरी कर रही है, पुलिस का कहना है कि कोमल की मानसिक स्थिति ठीक नहीं है, वो अपने ससुराल वालों की प्रताड़ना से काफी परेशान है।