कश्मीर को पूरा बदलने की तैयारी में मोदी सरकार, ऑर्टिकल 370 के बाद अब ये है खास प्लान

आने वाले दिनों में जम्मू-कश्मीर के आईएएस और कश्मीर एडमिनिस्ट्रेटिव सर्विसेज के अधिकारी अनुच्छेद 370 हटाये जाने से होने वाले फायदे की जानकारी कम से कम 20-20 स्थानीय परिवारों तक पहुंचाएंगे।

New Delhi, Aug 21 : मोदी सरकार लगातार कोशिश कर रही है, कि जम्मू-कश्मीर में स्थिति जल्द सामान्य हो जाए, अब घाटी में शांति स्थापित करने के लिये मोदी सरकार ने एक बड़ा प्लान तैयार किया है। जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाये जाने और इसके दो केन्द्र शासित प्रदेशों में बांटे जाने के बाद से ही मोदी सरकार लगातार कोशिश कर रही है, कि घाटी में स्थिति सामान्य हो जाए, अब सरकार बड़े प्लान को लागू करने की तैयारी कर रही है।

फायदों के बारे में बताएंगे अधिकारी
सूत्रों का दावा है कि आने वाले दिनों में जम्मू-कश्मीर के आईएएस और कश्मीर एडमिनिस्ट्रेटिव सर्विसेज के अधिकारी अनुच्छेद 370 हटाये जाने से होने वाले फायदे की जानकारी कम से कम 20-20 स्थानीय परिवारों तक पहुंचाएंगे, इसके साथ ही ऑर्टिकल 370 के हटने से स्थितियों में क्या-क्या सुधार होगा, इसका भी लेखा-जोखा अधिकारी परिवारों को देंगे, इन फायदों के बारे में बताने के लिये सरकार टीवी, रेडियो, अखबार और दूसरे प्रचार माध्यम का सहारा भी लेगी।

योजनाओं को तेजी से किया जाएगा पूरा
इतना ही नहीं जितनी तवज्जो इस मोर्चे पर लोगों को जानकारी देने पर होगी, उतनी ही इन योजनाओं के तेज और सफल कार्यान्वयन पर भी ध्यान दिया जाएगा, इसके लिये कश्मीर पुलिस-प्रशासन के अधिकारी और वहां नियुक्त आईएएस अधिकारी विकास कार्यों की समीक्षा करेंगे, और उनकी कोशिश होगी, कि इन प्रोजेक्ट्स को तेजी से पूरा किया जा सके।

इंवेस्टर समिट का आयोजन
जम्मू-कश्मीर में इंडस्ट्रीज को बढावा देने के लिये 12 से 14 अक्टूबर तक श्रीनगर में इंवेस्टर समिट का आयोजन किया जाएगा, जिसमें बड़े-बड़े उद्योगपतियों को कश्मीर में निवेश के लिये आमंत्रित किया गया है। जम्मू-कश्मीर के गांवों का विकास भी इस प्लान में शामिल है, केन्द्र के साथ मिलकर जम्मू-कश्मीर रुरल डेवलपमेंट विभाग इसके तहत चलाई जा रही योजनाओं को पूरा करेगी।