भोजन करने के तुरंत बाद इसलिये नहीं नहाना चाहिये, कारण जान आप भी बदल लेंगे अपनी आदत

आयुर्वेद के मुताबिक भोजन करने के ठीक बाद शरीर का अग्नि तत्व सक्रिय हो जाता है, ये पाचन क्रिया में मदद करता है।

New Delhi, Oct 09 : घर के बड़े बुजुर्ग अकसर ये समझाते हैं कि हर काम समय पर करने की आदत डालो, लेकिन उनकी बातों को ज्यादातर युवा अनसुना कर देते हैं, और ज्यादा ध्यान नहीं देते, वास्तव में पुराने जमाने के लोग नहाना, खाना, सोना, उठना हर काम वो समय पर करते थे, जिसकी वजह से निरोगी और स्वस्थ्य जीवन जीते थे।

नहाने का सही समय
आजकल की भागदौड़ भरी जिंदगी में ये आसान भी नहीं है कि हम अपने पूर्वजों की जीवनशैली को फॉलो करें, लेकिन अगर आप अंदर से थकान, सुस्ती और कमजोरी महसूस करते हैं, तो आपको अपनी आदतों और जीवनशैली को बदलने की जरुरत है, इन्हीं में से एक आदत है सही समय पर नहाना, अकसर कहा जाता है कि भोजन करने के तुरंत बाद हमें नहीं नहाना चाहिये, आयुर्वेद और मॉडर्न साइंस दोनों इसके पीछे विशेष कारण मानते हैं।

खाने के तुरंत बाद क्यों नहीं नहाना चाहिये
अगर आप भी भोजन करने के तुरंत बाद नहाते हैं, तो ये आपके लिये बुरी खबर हो सकती है, क्योंकि भोजन करने के तुरंत बाद नहाने से ब्लड का प्रवाह पेट से शरीर के अन्य हिस्सों में होने लगता है, जिसकी वजह से पाचन क्रिया सुस्त हो जाती है, और खाना बहुत देर से पचता है।

क्या कहता है आयुर्वेद
कोई भी काम गलत समय पर करने पर शरीर को इसका नुकसान उठाना पड़ सकता है, आयुर्वेद के मुताबिक भोजन करने के ठीक बाद शरीर का अग्नि तत्व सक्रिय हो जाता है, ये पाचन क्रिया में मदद करता है, लेकिन भोजन करने के ठीक बाद नहा लेने से शरीर का तापमान कम हो जाता है, जिसकी वजह से पाचन क्रिया धीमी पड़ जाती है।

क्या कहता है मॉडर्न साइंस
मेडिकल साइंस के मुताबिक नहाने के बाद शरीर का तापमान कम हो जाता है, चूंकि शरीर धीरे-धीरे ठंडा होने लगता है, जिसकी वजह से पाचन में सहायता के लिये शरीर के मानक तापमान को बनाये रखने में कठिनाई होती है, इसके परिणामस्वरुप ब्लड प्रवाह शरीर के अन्य भागों में होने लगता है, जिससे पाचन क्रिया धीमी हो जाती है, भोजन ना पचने के कारण व्यक्ति को बेचैनी होने लगती है, साथ ही एसिडिटी और कब्ज की समस्या हो जाती है।