घरेलू क्रिकेट खेलने वालों की बदलेगी किस्मत, सौरव गांगुली ने किया बड़ा ऐलान

सौरव गांगुली ने कहा कि देश के शीर्ष अंतरराष्ट्रीय क्रिकेटरों की तरह ही घरेलू क्रिकेटरों के लिये भी भुगतान का सुव्यवस्थित ढांचा होना चाहिये।

New Delhi, Oct 29 : अब घरेलू क्रिकेट खेलने वालों की भी किस्मत बदलने वाली हैं, दरअसल बीसीसीआई के नये अध्यक्ष सौरव गांगुली ने संकेत दिये हैं कि जल्द ही प्रथण श्रेणी क्रिकेटरों के लिये करार व्यवस्था लागू की जाएगी, जिससे उन्हें वित्तीय सुरक्षा दी जाएगी, सौरव गांगुली ने बतौर बीसीसीआई अध्यक्ष पीटीआई को दिये इंटरव्यू में कहा कि घरेलू क्रिकेटरों की वित्तीय स्थिति उनकी प्राथमिकता है, और वो मैच फीस में बढोतरी चाहते हैं।

वित्तीय मदद
सौरव गांगुली ने कहा कि देश के शीर्ष अंतरराष्ट्रीय क्रिकेटरों की तरह ही घरेलू क्रिकेटरों के लिये भी भुगतान का सुव्यवस्थित ढांचा होना चाहिये, बीसीसीआई अध्यक्ष ने आगे बोलते हुए कहा कि हम प्रथम श्रेणी क्रिकेटरों के लिये करार व्यवस्था लेकर आएंगे, हम नई वित्त समिति को करार व्यवस्था तैयार करने के लिये कहेंगे।

जल्द फैसला लूंगा
सौरव गांगुली ने कहा कि अभी पद संभाले हुए 5 दिन ही हुए हैं, बीच में दिवाली की छुट्टी थी, मैं दो सप्ताह में सबकुछ आकलन करुंगा, फिर इसके बाद इस बारे में फैसला लूंगा, काफी काम चल रहा है, फिलहाल घरेलू क्रिकेट में खेलने वाले खिलाड़ियों को सलाना 25 से 30 लाख रुपये मिलते हैं।

हर मैच के लिये 35 हजार
आपको बता दें कि हर प्रथम श्रेणी मैच के लिये 35 हजार रुपये प्रतिदिन मिलते हैं, बीसीसीआई को प्रसारण अधिकारों से मिलने वाले रेवेन्यू का 13 फीसदी घरेलू क्रिकेटरों में बांटा जाता है। सौरव गांगुली ने बीसीसीआई अध्यक्ष पद संभालते हुए कहा था कि उनकी प्राथमिकता घरेलू क्रिकटरों की वित्त समस्या को दूर करना होगा।