भाभी पर उठाई उंगली तो देवर ने दिया जवाब, अनुष्‍का – इंजीनियर विवाद में अब सेलेक्‍टर्स भी बोले

अनुष्‍कमा शर्मा को सेलेक्‍टर्स द्वारा चाय का कप देने वाले बयान पर अब रोहित शर्मा सामने आए हैं, साथ ही मुख्‍य सेलेक्‍टर एमएसके प्रसाद ने भी इस बयान पर नाराजगी जताई है ।

New Delhi, Nov 01: पूर्व भारतीय विकेटकीपर फारुख इंजीनियर के विवादित बयान पर अब सेलेक्‍टर्स ही नहीं बल्कि क्रिकेटर्स भी भड़क गए हैं । अनुष्‍का शर्मा ने फारुखी के इस बयान पर कि उन्‍होने सेलेक्‍टर को वर्ल्‍ड कप के दौरान अनुष्‍का को चाय सर्व करते हुए देखा है, एक लंबी चौड़ी पोस्‍ट लिखकर अपनी नाराजगी जताई । उन्‍होने साफ लिखा कि क्रिकेट से जुड़े मामलों में उनके नाम को बेवजह घसीटना ठीक नहीं है । फारुखी सेलेक्‍टर्स पर उंगली उठाने के लिए मेरे नाम का इस्‍तेमाल नहीं कर सकते हैं ।

रोहित शर्मा का बयान
वहीं मामले में दिल्ली में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर रहे रोहित शर्मा से जब इंजीनियर के आरोपों पर सवाल पूछा गया तो वह भड़क गए । रोहित ने बेहद गुस्से के साथ कहा –  “मैं फारुख इंजीनियर के दिमाग में तो नहीं घुस सकता कि वह क्या सोच रहे हैं। यह सवाल आप उनसे पूछिए कि वह ऐसा आरोप क्यों लगा रहे हैं।”

एमएसके प्रसाद का बयान
वहीं आरोपों से गुस्साए चीफ सेलेक्टर एमएसके प्रसाद ने भी इंजीनियर के बयान को घटिया बताया। उन्होंने कहा, ‘‘मुझे उस व्यक्ति के लिए दुख होता है जो घटिया बातों में उलझकर ऐसी बातें करता है। वह झूठे और तुच्छ आरोपों से भारतीय कप्तान की पत्नी और चयनकर्ताओं का अपमान कर रहा है। 82 साल के व्यक्ति को परिपक्वता दिखानी चाहिए और भारतीय क्रिकेट के अपने दौर से आज तक हुई उन्नति का आनंद लेना चाहिए। यह नहीं भूलना चाहिए कि इस चयन समिति को बीसीसीआई ने उचित प्रक्रिया के माध्यम से नियुक्त किया है।’’

इंजीनियर ने मांगी माफी
हालांकि मामले में फारूख इंजीनियर ने अनुष्का शर्मा से अब माफी मांग ली है । उन्‍होने कहा कि उन्‍होंने यह बात हंसी मजाक में कही थी । लेकिन उनकी बात को तिल का ताड़ बना दिया गया । फारूख ने कहा – ‘बेचारी अनुष्‍का को इसमें घसीटा गया, वह प्‍यारी लड़की हैं । विराट कोहली शानदार कप्‍तान और कोच रवि शास्‍त्री भी काफी अच्‍छे हैं । बेवजह मामले को बढ़ाया गया. वह एक सेलेक्‍टर जैसा लग रहा था क्‍यों कि उसने इंडिया का ब्‍लेजर पहना हुआ था।’ इंजीनियर ने सफाई देते हुए कहा कि अनुष्‍का शर्मा को इसमें शामिल करने की उनकी कोई मंशा नहीं थी और वह केवल सेलेक्‍टर्स के बारे में ही बात कर रहे थे ।