दरवाजे पर पहुंची बारात बेरंग लौटी, दुल्हन ने प्रेमी के साथ मंदिर में लिये सात फेरे

पुलिस ने पहले परिजनों के कहने पर दुल्हन को समझाने-बुझाने की भरपूर कोशिश की, लेकिन युवती ने उस युवक से शादी से साफ इंकार कर दिया।

New Delhi, Jun 03 : यूपी के झांसी जिले में एक हैरान करने वाला मामला चर्चा में है, दरअसल यहां लॉकडाउन के बीच एक दूल्हा बरातियों के साथ सात फेरे लेने के लिये दुल्हन के दरवाजे पर पहुंचा, लेकिन युवती ने ऐन मौके पर शादी से इंकार कर दिया, पुलिस पुलिस थाने तक पहुंच गया, लेकिन पुलिस को भी दुल्हन की जिद के आगे झुकना पड़ा, जिसके बाद बारात बेरंग बिना दुल्हन लिये लौटा, इसके बाद युवती ने अपने प्रेमी के साथ मंदिर में शादी रचाई, परिजनों के साथ-साथ सगे-संबंधियों और गांव वालों ने नव दंपत्ति को आशीर्वाद दिया।

Advertisement

दुल्हन ने पुलिस बुलाया
दरअसल ये मामला झांसी जिले से लहचूरा थाना क्षेत्र के अंतर्गत गांव धवाकर का है, यहां रहने वाली एक युवती की शादी उनके परिजनों ने 30 मई को तय की थी , तय कार्यक्रम के मुताबिक मड़वा गांव के रहने वाला दूल्हा बरातियों के साथ दुल्हन के दरवाजे पर पहुंचा, लेकिन बारात को दरवाजे पर देख दुल्हन खुश होने के बजाय 112 नंबर पर कॉल कर पुलिस बुला लिया। इसके बाद पूरा मामला थाने पहुंच गया।

Advertisement

शादी से इंकार
पुलिस ने पहले परिजनों के कहने पर दुल्हन को समझाने-बुझाने की भरपूर कोशिश की, लेकिन युवती ने उस युवक से शादी से साफ इंकार कर दिया, य़ुवती ने पुलिस से कहा कि वो बालिग है, लेकिन उनके घर वाले जबरदस्ती किसी और से शादी करवाना चाहते हैं, लेकिन वो किसी से प्रेम करती है और उसी से शादी करना चाहती है।

Advertisement

प्रेमी के घर वाले राजी
पुलिस के दखल के बाद ये शादी टाल दी गई, जिसके बाद युवती के परिजनों ने प्रेमी के घर वालों से बात की, एक ही जाति से होने की वजह से दोनों परिवारों को शादी पर कोई ऐतराज नहीं था, जिसके बाद तुरंत मंदिर में हिंदू रीति-रिवाज से दोनों की शादी कर दी गई। इस शादी की पूरे इलाके में खूब चर्चा हो रही है।