दुल्‍हन के साथ 7 फेरों का सपना देख रहा दूल्‍हा पहुंचा थाने, DM ने DJ वालों-मेहमानों को दौड़ाया

कोरोना की गंभीरता को हल्‍के में ले रहे लोग ये खबर जरूर पढ़ें, देखें कैसे एक शादी में डीएम का डंडा चला । कोरोना गाइडलाइन का उल्‍लंघन कितना भारी पड़ा ।

New Delhi, Apr 28: कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए देश भर में अब सख्‍ती का दौर शुरू हो गया है, अधिकारी भी खुलकर मैदान में आ गए हैं । कर्फ्यू के दौरान गाइडलाइन का उल्‍लंघन ना हो इसका पूरा ख्‍याल रखा जा रहा है । लेकिन अगर कोई नियम ना माने तो उसके साथ कुछ ऐसा होगा जैसा त्रिपुरा में हुआ । मामला पश्चिमी त्रिपुरा जिले का है, यहां के जिलाधिकारी शैलेश कुमार यादव ने कोरोना गाइडलाइन का पालन नहीं करने पर दो मैरिज हॉल को सील कर दिया । इसके साथ ही शादी में जुटी पूरी भीड़ के खिलाफ कार्रवाई की गई है ।

Advertisement

दूल्‍हा-दुल्‍हन पर केस
डीएम ने पुलिस को महामारी रोग अधिनियम, आपदा प्रबंधन अधिनियम और रात के कर्फ्यू का उल्लंघन करने के लिए दूल्हा और दुल्हन समेत शादी में शामिल सभी लोगों के खिलाफ मामला दर्ज करने का निर्देश दिया है । इस घटना से जुड़े जिलाधिकारी शैलेश यादव के दो वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे हैं, ये वीडियो डीएम द्वारा मैरिज हॉल पर की गई छापामार कार्रवाई के दौरान के हैं । डीएम कोरोना महामारी के इस समय में आयोजित शादी समारोह में शामिल लोगों द्वारा कोविड गाइडलाइन का पालन नहीं किए जाने पर बेहद गुस्‍सा नजर आए ।

Advertisement

बैंड-बाजे वालों को भगाया
जिलाधिकारी ने पहले वहां से बैंड वालों को भगाया, फिर शादी में शामिल लोगों को वहां से दौड़ा दिया । डीएम साहब ने दुल्हन को स्टेज से उतरने के लिए भी कहा, इसके अलावा पूरी टीम शादी में आए मेहमानों को मैरिज हॉल से बाहर निकालने में लगे रहे । जिलाधिकारी शैलेश कुमार यादव ने प्रशासन के साथ सहयोग नहीं करने के लिए पुलिस के खिलाफ गुस्सा जाहिर किया, जिलाधिकारी ने पुलिसकर्मियों को फटकार भी लगाई । वो कहते हुए सुनाई दिए, I am your bl**dy DM ।

Advertisement

त्रिपुरा में कोराना संक्रमण
आपको बता दें त्रिपुरा में भी कोरोना संक्रमण की रफ्तार तेज है, यहां हर दिन औसतन कोरोना संक्रमण के 100 नए केस सामने आ रहे हैं । बड़ी बात ये कि राज्य में 1,000 से अधिक मरीजों को अस्पताल की देखभाल प्रदान करने के लिए कोई बुनियादी ढांचा भी नहीं है । इसी वजह से अगरतला नगर निगमक्षेत्रों में 22 से 30 अप्रैल तक नाइट कर्फ्यू है । वहीं शादी में जिलाधिकारी शैलेश कुमार यादव द्वारा की गई इस कार्रवाई को लेकर विधायक ने उनकी शिकायत के लिए सरकार को लिखा है ।