ओलंपिक गोल्ड मेडल जीतने के बाद नीरज चोपड़ा का एक और सपना हुआ पूरा, ट्वीट कर बताया

टोक्यो ओलंपिक खेलों में भारत के लिए स्‍वर्ण पदक जीतने वाले नीरज चोपड़ा ने हाल ही में अपना एक और सपना पूरा किया है । क्‍या था वो सपना आगे पढ़ें ।

New Delhi, Sep 11: नीरज चोपड़ा, ये नाम आज देश के घर-घर में शान से लिया जाता है । भारत के लिए टोक्‍यो ओलंपिक में ऐतिहासिक गोल्ड मेडल जीतने वाले भाला फेंक खिलाड़ी नीरज बच्‍चों के लिए प्रेरणा बन गए हैं । नीरज ने हाल ही में देश के स्‍वर्ण जीतक हर भारतीय का सपना पूरा किया है, उनका खुद का सपना भी पूरा हुआ है । लेकिन अब उन्‍हें उतनी ही खुशी अपना एक और सपना पूरा कर मिली है ।

Advertisement

माता-पिता को करवाया हवाई सफर
शनिवार सुबह नीरज चोपड़ा एक और सपना तब सच हो गया, जब उन्होंने पहली बार अपने माता-पिता को फ्लाइट की यात्रा करवाई। इस मौके पर उन्होंने अपने सोशल मीडिया अकाउंट्स पर माता-पिता की तस्वीरें शेयर की हैं। नीरज ने ट्वीट कर अपनी खुशी फैंस के साथ्‍ जाहिर की । उनकी माता-पिता के साथ ये तस्‍वीरें सोशल मीडिया पर वायरल हो रही हैं ।

Advertisement

Advertisement

नीरज ने किया ट्वीट
नीरज चोपड़ा ने ट्वीट करते हुए लिखा कि, ‘आज जिंदगी का एक सपना पूरा हुआ जब अपने मां-पापा को पहली बार फ्लाइट में बैठा पाया। सभी की दुआ और आशीर्वाद के लिए हमेशा आभारी रहूंगा।’ आपको बता दें नीरज ने पिछले महीने ही बताया था कि तबीयत खराब होने और ट्रैवलिंग की वजह से उनकी ट्रेनिंग की शुरुआत नही हो पा रही है, इसी वजह से उनकी टीम ने इस साल का सीजन रोकने का निर्णय लिया है।

2022 में करेंगे वापसी
उन्होंने साथ ही यह भी कहा कि वे अगले साल यानी 2022 में एशियाई खेल और कॉमनवेल्थ गेम्स में भाग लेंगे। नीरज ने इंस्टाग्राम पर पोस्ट शेयर करते हुए लिखा था, ‘सबसे पहले, मैं टोक्यो से वापस आने के बाद से मिले प्यार और स्नेह के लिए सभी को धन्यवाद देना चाहता हूं। मैं ईमानदारी से देश भर से और बाहर से मिले समर्थन से अभिभूत हूं और आप सभी का आभार व्यक्त करने के लिए मेरे पास शब्दों की कमी है।’ नीरज ने ओलंपिक में जैवलिन थ्रो के फाइनल इवेंट में 87.58 मीटर का थ्रो फेंककर ट्रैक एंड फील्ड में देश को पहला मेडल दिलाया था। नीरज भारत की तरफ से ओलंपिक खेलों में गोल्ड मेडल जीतने वाले महज दूसरे ही खिलाड़ी हैं।