बीबीसी हिन्दी के रेडियो प्रसारण नहीं बंद हो रहे, बल्कि इस युग की रातों का एक चंद्रमा लुप्त हो रहा है

Tribhuvan

बीबीसी हिन्दी के रेडियो प्रसारण नहीं बंद हो रहे, बल्कि इस युग की रातों का एक चंद्रमा लुप्त हो रहा है

पांचवीं कक्षा की छुटि्टयों के दिनों से बीबीसी के साथ जो रिश्ता बना, वह आज तक कभी नहीं टूटा। वे इमरजेंसी के दिन थे। मीडियम वेव पर बीबीसी नहीं आता…