फिर फायर हुए शॉटगन, कहा हमसे भी तो पूछो लोकसभा का टिकट लूंगा या नहीं


बीजेपी से शॉटगन का टिकट कटना तय माना जा रहा है, कहा जा रहा है बीजेपी वहां से दूसरा उम्मीदवार तलाश रही है।

New Delhi, Jan 15 : पटना साहिब संसदीय सीट से सांसद शत्रुघ्न सिन्हा के तेवर नरम पड़ने के नाम नहीं ले रहे हैं, अब शॉटगन ने एक बार फिर से फायर किया है, उन्होने कहा कि कोई मुझसे भी तो पूछे कि मैं पार्टी से टिकट लूंगा या नहीं, मेरे दिल की बात भी तो कोई जाने, शॉटगन के अनुसार बीजेपी इस बार पटना साहिब से उन्हें टिकट देगी या नहीं इस पर खूब चर्चा हो रही है, अब उसी को लेकर सांसद ने अपने दिल की बात कही है।

कभी पार्टी के खिलाफ नहीं बोला
बीजेपी सांसद रविवार को एक कार्यक्रम में पहुंचे थे, जहां पर संवाद के दौरान उन्होने कई बातें कही, उन्होने कहा कि पार्टी से बढकर जनता है, जनता के दुख और दर्द को बयां करने का मैं एक माध्यम हूं, कभी कोई भी बात पार्टी के खिलाफ नहीं बोला, नोटबंदी से मिडिल क्लास और लोअर मिडिल क्लास के लोगों के रोजगार पर असर पड़ा, जो महिलाएं पैसे छुपा कर रखती थी, नोटबंदी ने सब डुबो दिया।

किसानों को नहीं मिल रहा दाम
बिना नाम लिये शत्रुघ्न सिन्हा ने मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि किसानों को अब भी पर्याप्त मूल्य नहीं मिल रहा है, सरकार ने जो न्यूनतम समर्थन मूल्य तय किया है, वो नाकाफी है, किसानों और उनके परिवारों की समस्याओं का समाधान नहीं हो रहा है, जनता की आवाज बनकर हमेशा उनकी समस्याएं उठाता रहूंगा।

कोई हमसे भी पूछे टिकट लूंगा या नहीं
पिछले कुछ दिनों से बॉलीवुड एक्टर के बगावती तेवर और पार्टी हाईकमान के खिलाफ लगातार बयानबाजी करने के बाद कहा जा रहा है कि पटना साहिब से उनका टिकट कट सकता है, हालांकि उन्होने अब कहा है कि कोई उनसे भी पूछे कि वो पार्टी से टिकट लेंगे या नहीं, आपको बता दें कि वो खुला ऐलान कर चुके हैं कि 2019 लोकसभा चुनाव भी वो पटना साहिब सीट से ही लड़ेंगे।

महागठबंधन के हो सकते हैं उम्मीदवार
बीजेपी से शॉटगन का टिकट कटना तय माना जा रहा है, कहा जा रहा है बीजेपी वहां से दूसरा उम्मीदवार तलाश रही है, फिर एक संभावना ये भी जताई जा रही है कि पटना साहिब सीट जदयू के खाते में जा सकती है। दूसरी ओर शत्रुघ्न सिन्हा की इन दिनों लालू परिवार से नजदीकियां किसी से छुपी नहीं है, तेजस्वी खुद कह चुके हैं कि अगर वो चुनाव लड़ना चाहें, तो उनका स्वागत है। ऐसे में वो महागठबंधन से उम्मीदवार हो सकते हैं।