राहुल गांधी के बेहद करीबी नेता बीजेपी में शामिल, रवि शंकर प्रसाद ने किया स्‍वागत, कांग्रेस को तगड़ा झटका

‘मैं भारी मन से कांग्रेस को छोड़ रहा हूं । पाकिस्तानी आतंकियों का हमारी जमीन पर हमला और आप उस पर राजनीति करते हैं ।’

New Delhi, Mar 14 : चुनाव का समय है और जोड़-तोड़ का मौसम शुरू हो गया है । चुनावों की तारीखों के ऐलान के ठीक बाद कांग्रेस को बड़ा झटका लगा है । कांग्रेस से नाराज राहुल गांधी के करीबी एक वरिष्‍ठ नेता ने कांग्रेस का दामन छोड़ बीजेपी का दामन थाम लिया है । कांग्रेस के वरिष्ठ नेता टॉम वडक्कन ने गुरुवार को बीजेपी की सदस्‍यता ग्रहण कर ली । केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने बीजेपी में आने पर उनका स्वागत किया । टॉम केरल के त्रिशूर जिले से आते हैं ।

राहुल गांधी के करीबी
टॉम वडक्कन काफी लंबे समय से कांग्रेस में थे ।  पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के निजीसहायक रहे वडक्कन लंबे समय तक कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता भी रहे हैं । इतना ही नहीं राहुल गांधी के पार्टी अध्यक्ष बनने के बाद भी वह उनके करीबी माने जाते रहे । हालांकि कुछ समय से वडक्‍कन फ्रंट पर नजर नहीं आए, पार्टी में उनकी पूछ कुछ कम हो रही थी । हालांकि वडक्‍कन ने बीजेपी में शामिल होने का जो कारण बताया वो गौर करने वाली बात है ।

सेना के प्रति कांग्रेस का रुख निराशाजनक : वडक्‍कन
वहीं बीजेपी में शामिल होने के बाद टॉम वडक्कन ने कहा –  ‘मैंने 20 साल कांग्रेस को दिए । कांग्रेस में वंशवाद की राजनीति हावी है । पुलवामा हमले के बाद कांग्रेस के रुख से मैं काफी दुखी हूं । कांग्रेस पुलवामा हमले पर राजनीति कर रही है । मैं भारी मन से कांग्रेस को छोड़ रहा हूं । पाकिस्तानी आतंकियों का हमारी जमीन पर हमला और आप उस पर राजनीति करते हैं ।’

बीजेपी में शामिल होना देशप्रेम
सोनिया और राजीव गांधी के साथ काम कर चुके टॉम वडक्‍कन ने चौंकाने वाला बयान देते हुए कहा – जब आप देश की सेनाओं पर सवाल उठाते हैं तो इससे दुख होता है । कांग्रेस और छोड़ना और बीजेपी में शामिल होना विचारधारा की बात नहीं है, यह देश प्रेम की बात है । वडक्कन ने कहा –  ‘‘ मैं बेहद आहत हूं, इसलिये यहां हूं ।’’ उन्होंने कहा कि कांग्रेस सशस्त्र बलों की ईमानदारी पर सवाल उठा रही है । पुलवामा हमले के बाद से कांग्रेस के रिएक्‍शन बेहद निराशाजनक रहे ।

मोदी पर पूरा भरोसा
टॉम वडक्कन ने कांग्रेस को लेकर कई बातें कहीं उन्‍होने कहा कि अगर कोई पार्टी राष्ट्रीय हितों के खिलाफ काम करती है, तब पार्टी छोड़ने के अलावा कोई और विकल्प नहीं बचता है । उन्‍होने कांग्रेस शीर्ष पर इस्तेमाल करो और फेंकों की नीति अपनाने का आरोप मढ़ा । मोदी पर पूरा भरोसा जताया और उनकी विकास पहल की तारीफ की । वहीं कांग्रेस ने अपने वरिष्‍ठ नेता के बीजेपी में शामिल होने पर कहा है कि उन्‍हें उम्‍मीद है कि वहां उनकी आकांक्षाएं पूरी होंगी। माना जा रहा है कि बीजेपी लोकसभा चुनाव में वडक्कन को केरल की किसी सीट से उम्मीदवार बना सकती है ।